Digital clock

Wednesday, 6 February 2013

2000 me join jbt trs mamle me 5 feb ko high court me sunwai hui.HC ne petitioner ki day by day hearing or new prayer ko reject kiya.nxt hearing 22july ko hogi

जेबीटी टीचरों को प्रमोशन नहीं 
मुख्यमंत्री हुड्डा ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक में लिया फैसला 

• अमर उजाला ब्यूरो
चंडीगढ़ । जेबीटी टीचरों को प्रमोशन नहीं मिलेगी। यह फैसला मंगलवार को सीएमभूपेंद्र सिंह हुड्डा की उपस्थिति में हुई शिक्षा विभाग के अफसरों की बैठक में किया गया। 
पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने वर्ष-2000 में लगे 3206 जेबीटी टीचरों की याचिकाओं पर हरियाणा सरकार को निर्देश दिया था कि उनको प्रमोशन दी जाए। इस मामले में अगली सुनवाई 27 फरवरी को होगी। मंगलवार को मुख्यमंत्री के साथ बैठक में जेबीटी टीचरों को हटाने या न हटाने के बारे में चर्चा हुई। बैठक में फैसला हुआ है कि चूंकि सीबीआई की विशेष अदालत का फैसला गत 16 जनवरी को आ चुका है जिसमें जेबीटी टीचरों की नियुक्ति वाली सूची को फर्जी ठहराया गया है। इसलिए इन टीचरों को प्रमोशन नहीं दी जाएगी क्योंकि अब हालात बदल गए हैं। यह भी फैसला किया गया है कि हाईकोर्ट में अगली सुनवाई 27 फरवरी से पहले सरकार की तरफ से आग्रह किया जाएगा कि प्रमोट करने वाले आदेश को वापस लिया जाए। 
हरियाणा जेबीटी मामले की नियमित सुनवाई नहीं 
• अमर उजाला ब्यूरो
चंडीगढ़। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के शासन काल में हुई गैरकानूनी जेबीटी भर्तियों के लंबित मामले में दाखिल उन अपीलों को अस्वीकार कर दिया है, जिनमें इस मामले की जल्द सुनवाई और डे टू डे हेयरिंग करने के आग्रह के साथ पूर्व मुख्यमंत्री के खिलाफ दिल्ली के स्पेशल सीबीआई कोर्ट के आदेशों को प्लेस आन रिकार्ड किया गया था। हाईकोर्ट के जस्टिस टीएस ढींढसा पर आधारित सिंगल बेंच ने मंगलवार को सभी अपीलाें का निपटारा करते हुए कहा कि इस मामले में दाखिल मुख्य याचिका की सुनवाई के दौरान अपीलों में उठाए सभी पहलुआें पर विचार किया जाएगा। हाईकोर्ट ने मुख्य याचिका पर सुनवाई 22 जुलाई के लिए निर्धारित की है। 
मंगलवार को सुनवाई के दौरान करनाल निवासी सतबीर सिंह एवं तीन अन्याें की अपीलों की पैरवी कर रही अधिवक्ता ने हाईकोर्ट से आग्रह किया कि चूंकि इस मामले पर दिल्ली की विशेष सीबीआई अदालत फैसला सुना चुकी है, लिहाजा इसे जल्द सुनवाई में लेकर डे टू डे हेयरिंग में लिया जाए, ताकि जेबीटी परीक्षा में धांधली के कारण नौकरी से वंचित रहे लोगों को न्याय मिल सके। उन्होंने कहा कि चौटाला शासन काल में 3,206 जेबीटी टीचराें की नियुक्ति के मामले में यह साफ हो चुका है कि 1,577 अध्यापकों के गैरकानूनी तरीके से नंबर बढ़ाए गए। उन्हाेंने कहा कि इन अध्यापकों की गैरकानूनी नियुक्ति के चलते सैकड़ों योग्य उम्मीदवारों को नौकरी से वंचित होना पड़ा था। उन्होंने कहा कि याची पक्ष 1577 अध्यापकों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करना चाहता है, ताकि भविष्य में ऐसे धांधलियों को रोका जा सके।
दो आरोपियों ने दी सजा को चुनौती
नई दिल्ली। हरियाणा के चर्चित जेबीटी शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में सजा पाए दो और आरोपियों शेर सिंह बड़शामी व अजीत सिंह सांगवान ने हाईकोर्ट में अपील दायर करक निचली अदालत के फैसले को चुनौती दी है। अदालत ने मामले की सुनवाई सात फरवरी तय की है। वहीं, सोमवार को अपील दाखिल करने वाले आरोपी पुष्कर मल वर्मा ने पारिवारिक समारोह में शामिल होने के लिए पैरोल मांगी है उनके आवेदन पर छह फरवरी को सुनवाई होगी। न्यायमूर्ति मुक्ता गुप्ता की अदालत में बड़शामी व सांगवान ने अपील दायर की है। न्यायमूर्ति के अवकाश पर होने से सुनवाई नहीं हो पाई। बड़शामी को निचली अदालत ने दस वर्ष व सांगवान को चार वर्ष कैद की सजा सुनाई थी। 
•सीबीआई अदालत ने जेबीटी टीचरों वाली सूची को फर्जी ठहराया 
•मुख्य याचिका पर सुनवाई 22 जुलाई को


सभी नियमित प्राथमिक शिक्षक साथियो को पुन: सूचित किया जाता है कि राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा प्राथमिक शिक्षको की सभी लम्बित मांगो को ले कर 9 फरवरी को रोहतक में एक विशाल "प्रदेश स्तरीय महारैली" की जा रही है। इसलिए सभी नियमित प्राथमिक शिक्षक साथी इस "प्रदेश स्तरीय महारैली" में शिरकत करे और अन्य साथियो तक सूचना पहुंचाएं। संघ की और से सूचना व वाहन उपलब्ध ना हो पाए तो भी अपने स्तर पर आस-पास के साथियो के साथ सम्पर्क कर 8-10 की टीम में अपने स्तर पर वाहन करके भी हर हाल में अपनी उपसिथति सुनिश्चित करें। ये हमारी अपनी रैली है इसलिए बिना किसी के न्योते का इंतजार किये हमे पहुंचना ही है। सो मिलते है 9 फरवरी को रोहतक में। धन्यवाद।
निवेदक--राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ हरियाणा

2000 me join jbt trs mamle me 5 feb ko high court me sunwai hui.HC ne petitioner ki day by day hearing or new prayer ko reject kiya.nxt hearing 22july ko hogi.
Haryana cm hooda nd edu.deptt. K officer ki kl meeting hui jisme faisla kiya gya ki in jbt trs ko promotion nhi di jayegi or court me promotion dene k order ko vapis lene k liye application di jayegi. Jo trs ab b ye mante hein ki govt in trs ki khilaf nhi hai wo hosh me aa jao. Govt kahti hai ki cbi ne prove kiya hai ki join trs farji hein. Ydi govt ko court se kuch b hmare khilaf mila to sidhe ghar ka rasta dikhayegi. Friends, ab to jago.



No comments:

Post a Comment